112 बन गया है भारत का सिंगल इमरजेंसी नंबर, जानें क्या है विशेषताएं

India emergency number 112 for all emergency helpअभी तक अमेरिका जैसे देशों में 911 जैसा सिंगल इमरजेंसी नंबर चला करते थे| इस नंबर पर फोन करके व्यक्ति अपनी प्रॉब्लम बताते हैं, फिर उनको मदद मुहैया कराई जाती है| अमेरिका की तरह अब भारत में भी हर परेशानी के लिए एक सिंगल इमरजेंसी नंबर होगा| तो चलिए जानते हैं भारत के नए इमरजेंसी नंबर 112 के बारे में|

112 emergency number india

  • देश के 18 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में सरकार ने हाल ही में एक नया इमरजेंसी नंबर 112 शुरु किया|
  • इस नंबर पर नागरिक फोन करके अपनी परेशानी या मुश्किल बता सकते हैं और जल्द से जल्द मदद पा सकते हैं|

ये भी पढ़ें: क्या है आर्टिकल 370 जो बनाता है जम्मू-कश्मीरी नागरिकों को बाकियों से अलग

  • 112 नंबर पर फोन करके पुलिस सहायता, आग लगने पर, एम्बुलेंस, महिला सुरक्षा और बच्चों की सुरक्षा जैसी इमरजेंसी की सूचना दी या मदद मांगी जा सकती है|
  • इसे इस्तेमाल करना बेहद आसान है। सिर्फ एक कॉल ही इमरजेंसी रजिस्टर करवाने के लिए काफी है|
  • सरकार ने 112 नंबर का एक एप भी जारी किया है, जिसे आप अपने फोन में डाउनलोड कर सकते हैं।
  • इस एप में SHOUT नाम का एक फीचर है| इमरजेंसी में उसे इस्तेमाल करके आप अपने चुने हुए लोगों को एक अलर्ट भेज सकते हैं|
  • इस एप को इस्तेमाल करने का एक और तरीका है| अगर यूज़र अपने स्मार्टफोन के पॉवर बटन को लगातार तीन बार दबाएंगे तो वह अपने आप ही इमरजेंसी रिस्पॉन्स सेंटर से कनेक्ट हो जाएगा|
  • अगर आपका फोन स्मार्टफोन नहीं है, तो 5 या 9 नंबर का बटन देर तक दबाने से वह अपने आप ही इमरजेंसी रिस्पॉन्स सेंटर से कनेक्ट हो जाएगा।

ये भी पढ़ें: पुलवामा हमले के बाद इन स्टार्स के कमेंट ने लोगों को पहुंचाया दुख

  • यह नंबर लांच हो गया है| हालांकि, अभी भी पुराने इमरजेंसी नंबर 100,101 और 102 काम करते रहेंगे|
  • 112 नंबर अभी आंध्र प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, केरल, मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, गुजरात, पुदुच्चेरी, लक्षद्वीप, दादर नगर हवेली, दमन-दीव, नागालैंड, हिमाचल प्रदेश, अण्डमान निकोबार और जम्मू-कश्मीर में जारी कर दिया गया है|
  • हिमाचल प्रदेश और नागालैंड में पहले से ही यह सुविधा कार्य कर रही है|
  • जिन राज्यों में अभी ये नंबर चालू नहीं हुआ है। वो अभी पुराने वाले इमरजेंसी नंबर इस्तेमाल कर सकते हैं|

ये भी पढ़ें: India Vs Pakistan: When sides forfeited matches in the World Cup

For more stories like 112 emergency number india, ऐसी ही ट्रेंडिंग खबरोंको जानने के लिए  फेसबुकट्विटर और गूगल पर हमें फ़ॉलों करें

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. The usage of the content and images on this website is intended to promote the works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2018 Tentaran.com. All rights reserved.