ये हैं प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग, इन स्थानों पर भगवान शिव वास करते हैं

12 Jyotirlingas in Indiaवैसे को भारत में भगवान शिव के कई मंदिर हैं। लेकिन इन 12 ज्योतिर्लिंगों का अपना एक खास महत्व है। इन 12 ज्योतिर्लिंगों का महत्व और इनसे जुड़ी कथाओं का वर्णन शिव पुराण में बताया गया है। ये ज्योतिर्लिंग देश के विभिन्न हिस्सों में स्थित हैं। प्रतिदिन इनके दर्शन के लिए लाखों श्रृद्धालु देश के अलग-अलग शहरों से आते हैं। तो जानिए प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग कहां- कहां हैं।

सोमनाथ ज्योतिर्लिंग, गुजरात
Somnath Jyotirlinga

  • सोमनाथ यह शिवलिंग गुजरात के काठियावाड़ में स्थापित है। सोमनाथ ज्योतिर्लिंग सबसे पहला भगवान शिव का ज्योतिर्लिंग माना जाता है।

Must Read: महामृत्युंजय मंत्र का लाभ, अर्थ हिंदी और इंग्लिश में

मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग, आन्ध्र प्रदेश
Mallika Arjuna Swamy Jyotirlinga

  • आन्ध्र प्रदेश प्रांत के कृष्णा जिले में कृष्णा नदी के तट पर श्रीशैल पर्वत पर श्रीमल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग स्थापित है। इसे दक्षिण का कैलाश कहते हैं।

महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग, उज्जैनMahakaleshwar temple

  • ये ज्योतिर्लिंग मध्यप्रदेश उज्जैन में स्थित है। इस शिवलिंग की विशेषता यह है कि यह भगवान शिव का एकमात्र दक्षिणमुखी ज्योतिर्लिंग है।

ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग, मध्य प्रदेश
Omkareshwar and Mammaleshwar Temples

  • मालवा क्षेत्र में ओंकारेश्वर स्थान नर्मदा नदी के बीच स्थित द्वीप पर है। यहां ओंकारेश्वर और मामलेश्वर दो ज्योतिर्लिंग हैं। इन दोनों शिवलिंगों की गणना एक ही ज्योतिर्लिंग में की गई है।

Must Read: Mahashivratri 2019 – कब पड़ रही है महाशिवरात्रि और कैसे करें पूजा

केदारनाथ ज्योतिर्लिंग, उत्तराखंड
Kedarnath

  • केदारनाथ ज्योतिर्लिंग उत्तराखंड में स्थित है। केदारनाथ का वर्णन स्कन्द पुराण एवं शिवपुराण में भी मिलता है। यह तीर्थ भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है।

भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग, महाराष्ट्र
Bhimashankar Temple

  • भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग महाराष्ट्र के पुणे जिले में सह्याद्री नामक पर्वत पर स्थित है। इस ज्योतिर्लिंग को मोटेश्वर महादेव के नाम से भी जाना जाता है। मान्यता है कि जो यहां पूजा करता है उसके लिए स्वर्ग के मार्ग खुल जाते हैं।

काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग, काशी
Kashi Vishwanath Temple

  • काशी के श्रीविश्वनाथजी सबसे प्रमुख ज्योतिर्लिंगों में एक हैं। यह उत्तर प्रदेश के काशी नामक स्थान पर स्थित है। काशी सभी धर्म स्थलों में सबसे अधिक महत्व रखती है।

Must Read: कैसे ॐ का जाप आपके जीवन में ला सकता है शांति और खुशियां

त्र्यंबकेश्वर ज्योतिर्लिंग, महाराष्ट्र
Triambakeshwar Temple

  • त्र्यम्बकेश्वर ज्योतिर्लिंग महाराष्ट्र के नासिक जिले में स्थित है। इस स्थान पर पवित्र गोदावरी नदी का उद्गम भी है।

वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग, झारखण्ड
Baidyanath Dham

  • वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग झारखण्ड प्रान्त, पूर्व में बिहार प्रान्त के सन्थाल परगना के दुमका नामक जनपद में पड़ता है। इसे वैद्यनाथधाम’ भी कहा जाता है।

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग, गुजरातNageshwar Temple

  • गुजरात के द्वारकाधाम के निकट स्थापित नागेश्वर ज्योतिर्लिंग है। इस स्थान को दारूकावन भी कहा जाता है।

रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग, तमिलनाडुRamanathaswamy Temple

  • यह तमिल नाडु के रामनाथपुरम जिले में स्थित है। यहां स्थापित शिवलिंग बारह द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक मानी जाती है। इस ज्योतिर्लिंग के विषय में यह मान्यता है, कि इसकी स्थापना स्वयं भगवान श्रीराम ने की थी।

घृश्णेश्वर ज्योतिर्लिंग, महाराष्ट्रTriambakeshwar Temple

  • एकादशवां ज्योतिर्लिंग घृश्णेश्वर है। यह स्थान महाराष्ट्र क्षेत्र के बेरूल गांव के पास है। इस स्थान को शिवालयभी कहा जाता है। घृश्णेश्वर को लोग घुश्मेश्वर भी कहते हैं।  

Recommended Reading: जानिए मंगलवार को क्यों और कैसे की जाती है हनुमान जी की पूजा

For more stories like 12 Jyotirlingas in India,  फेसबुकट्विटर और गूगल पर हमें फ़ॉलों करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. The usage of the content and images on this website is intended to promote the works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2018 Tentaran.com. All rights reserved.