भय्यूजी महाराज के सुसाइड नोट ने खोली उनकी मृत्यु की वजह

Bhaiyyuji Maharaj Death – इंदौर के रहने वाले और मशहूर संत भय्यूजी महाराज ने खुदकुशीकर ली है। सूत्रों के मुताबिक उन्होंने अपने इंदौर वाले घर में खुद को गोली मार ली और उनकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। घटना के बाद उनके सेवादार उन्हें इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराने लेकर गए जहाँ भय्यूजी महाराज को मृत घोषित कर दिया गया। भय्यूजी महाराज उस समय सुर्खियों में आए जब उन्होंने अन्ना हजारे जी के आंदोलन को खत्म कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। भय्यूजी महाराज के पार्थिव शरीर के दर्शन कल सुबह 9 से 12 के बीच बापट स्थित उनके आश्रम में कर सकते हैं और उसके बाद भय्यूजी का मुक्ति धाम में अंतिम संस्कार कर दिया जाएगा।

 

bhaiyyuji maharaj

 

पुलिस और पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक

bhaiyyuji

 

इंदौर में अपनी लाइसेंसी हथियार से खुद को गोली मार कर सुसाइड किया है। भय्यूजी महाराज केपास पुलिस को सुसाइड नोट भी मिला, जो अग्रेंजी भाषा में लिखा है। भय्यूजी महाराज ने अपने सुसाइड नोट में परिवारिक कलह का ज्रिक किया है। साथ ही उन्होंने लिखा है, कि वो बहुत ज़्याद तनाव में हैं लेकिन उन्होंने अपनी आत्महत्या के लिए किसी को दोषी करार नहीं किया है। पुलिस अपनीशुरूआती जांच में इस बात का अंदाजा लगा रही है कि 2015 में उनकी पहली पत्नी माधवी की मृत्यु के बाद भय्यूजी महाराज काफी अकेले हो गए थे। हालांकि उनकी पहली पत्नी माधवी से एक बेटी भी है। 2017 में भय्यूजी महाराज ने शिवपुरी, मध्यप्रदेशमें रहने वाली डॉक्टर आयुषी शर्मा से शादी कर ली। शादी के कुछ समय बाद भय्यूजी महाराज की दूसरी पत्नी अपनी मां रानी और छोटे भाई-बहन को भी ले आई और अपने परिवार के साथ मिलकर भय्यूजी की बेटी के साथ बुरा व्यवाहर करने लगी। जिस वजह से भय्यूजी महाराज और आयुषी शर्मा के बीच अक्सर झगड़े होते थे। ऐसा लगता है किजब भय्यूजी महाराज की बर्दाश्त करने की शक्ति खत्म हो गई तो उन्होंने खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली।

 

भय्यूजी महाराज का सुसाइट नोट मिला

bhaiyyuji maharaj suicide note

 

इंदौर पुलिस ने भय्यूजी महाराज का लिखा हुआ सुसाइड नोट बरामद किया है और आईजी इंटेलिजेंस मकरंद देउस्कर ने बताया कि पुलिस ने नोट के अलावा रिवॉल्वर भी जब्त कर ली है। देउस्कर कहते हैं कि पुलिस सुसाइड नोट की जांच कर रही है।  सूत्रों की माने तो अग्रेजी भाषा में लिखे सुसाइड नोट में भय्यूजी महाराज ने लिखा है कि मैं बहुत ज्यादा तनाव से परेशान हो चुका हूं और परिवार की जिम्मेदारी उठाने के लिए किसी का होना ज़रूरी है।

 

कौन थे भय्यूजी महाराज

about bhaiyyuji maharaj

 

भय्यूजी महाराज का जन्म 1968 में हुआ था। भय्यूजी महाराज का असली नाम उदयसिंह देशमुख है। उनका जन्म शुजालपुर के जमींदार परिवार में हुआ था। भय्यूजी पहले फैशन डिजाइनर थे और उन्होंने कपड़ों के एक ब्रांड के विज्ञापन के लिए मॉडलिंग भी की थी। उसके बाद वो अध्यात्म की राह पर चल दिए। उनका आश्रम इंदौर में बापट चौराहे पर बना हुआ है,जहाँ से भय्यूजी महाराज अपने सद्गुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट के काम और सामाजिक गतिविधियों पर नज़र रखते थे।

 

bhaiyyuji maharaj family

 

श्रीमती सुमित्रा महाजन, लोक सभा अध्यक्ष ने श्री भय्यूजी महाराज कोश्रद्धांजलि देते हुए कहा कि”विश्वास नहीं होता कि भय्यूजी महाराज अब हमारे बीच नहीं रहे। उनकी पहचान एक आध्यात्मिक गुरू, समाजसेवी एवं विचारवान व्यक्तित्व के तौर पर थी। उन्हेंने समाज में बदलाव के लिए एवं सुधार के लिए व्यापक काम किए।

 

अपने संस्थान ”सूर्योदय“ के माध्यम से समाज में एक नई रौशनी लाने का प्रयास किया। बंजारा समुदाय के लिए उनकी विशेष चिंताएं थीं। उनके आश्रम में आने वाले लोगों में बड़ी तादाद महाराष्ट्र के सुदूर गांवों से थी।लोग उनके यहां एक आशा से आते और एक विश्वास लेकर जाते थे। उनके यहां आने वालों में सार्वजनिक जीवन के बड़े-बड़े नाम भी थे। उनका इस तरीके से असमय चले जाना व्यथित करता है।

 

bhaiyyuji maharaj death

 

मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि वह दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे एवं उनके अनुयायियों एवं उनके परिवारजनों को इस असहनीय दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे। मेरी ओर से श्री भय्यूजी महाराज को आदरपूर्वक श्रद्धांजलि।

 

 

भय्यूजी महाराज के सुसाइड नोट ने खोली उनकी मृत्यु की वजह से ज़ुडी और भी खबरों के लिए come back and visit us again.

 

Read news about Bhaiyyuji Maharaj, Bhaiyyuji Maharaj Death, Bhaiyyuji Maharaj Suicide, Spiritual Leader Bhaiyyuji Maharaj.

 

ऐसी ही और जानकरी के लिए हमारे न्यूजलेटर को सबस्क्राइब करें और फेसबुकट्विटर और गूगल पर हमें फ़ॉलों करें।

Bhaiyyuji Maharaj 

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. The usage of the content and images on this website is intended to promote the works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2018 Tentaran.com. All rights reserved.