भारत के चक्रवात ‘वायु’ से छूटेगा पाकिस्तान का पसीना

cyclone vayu increase heat in Pakistan – अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान वायु का असर महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में दिखने लगा है। मुंबई में सुबह से ही तेज हवाएं चल रही हैं। इसके साथ ही पेड़ गिरने की घटनाएं भी देखी जा रही हैं। मुंबई समेत महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में मछुआरों और आम लोगों को अलर्ट जारी कर दिया गया है। वायु तूफान का असर गुजरात और मुंबई समेत कई राज्यों में देखने को मिलेगा। इसके साथ ही इसका असर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में भी देखने को मिलेगा। पाकिस्तान में इसके चलते गर्मी का प्रकोप बढ़ेगा।     

cyclone vayu increase heat in pakistan

भारत पर इसका असर – Cyclone Vayu

  • भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार चक्रवात वायु के 12 से 13 जून के बीच गुजरात के तटों से टकराने के आसार हैं। सौराष्ट्र के तटों तक पहुंचते ही यह 110 से 135 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ लेगा।
  • फिलहाल चक्रवात वायु गुजरात के तटीय इलाकों से करीब 650 KM. दूर है। जिस वजह से प्रशासन ने 32 से भी अधिक गांवों में अलर्ट जारी कर दिया है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाएगा।
  • सरकार ने तूफान से निपटने के लिए हर प्रकार की तैयारियां कर ली हैं। वायुसेना के सी-17 एयरक्राफ्ट एनडीआरएफ टीम के साथ जामनगर पहुंचा है। सरकार ने मछुआरों को 12 से 15 जून तक समुंद्र में न जाने की हिदायत दी है।
  • इस तूफान के कारण गुजरात, अहमदाबाद, गांधीनगर और राजकोट समेत तटवर्ती इलाके वेरावल, भुज और सूरत में हल्की बूंदाबांदी देखने को मिल सकती है।
  • अफसरों के मुताबिक, चक्रवात कच्छ, जामनगर, जूनागढ़, देवभूमि-द्वारका, पोरबंदर, अमरेली, भावनगर, और गिर-सोमनाथ जिलों को प्रभावित कर सकता है।
  • तटीय इलाकों में सभी स्कूल, कॉलेज और आंगनवाड़ी केंद्रों को 13 और 14 जून तक बंद कर दिया गया है।

Read More – Monsoon in India will occur late this season

  • इससे पहले साल 2010 में भी चक्रवात फेट आया था जो गुजरात के तटीय इलाकों से टकराया और ओमान से होते हुए पाकिस्तान की तरफ चला गया।
  • साल 2014 में गुजरात के तटों के पास दो चक्रवात नौनक और नीलोफर आए लेकिन ये दोनों ही चक्रवात अरब सागर में जाकर खत्म हो गए।
  • इसके बाद साल 2017 में भी चक्रवात ओखी आया। इसका असर केरल और तमिलनाडु में देखने को मिला।

Read More- 30 का दिखने के लिए ये आसन है खास, लौट आएगी चेहरे की रौनक

पा​किस्तान पर इसका असर- Cyclone Vayu

  • पाकिस्तान मौसम विभाग के विज्ञानी अब्दुर राशिद के मुताबिक इस तूफान का असर पाकिस्तान के तटीय इलाकों में देखने को नही मिलेगा, लेकिन इससे हीट वेब बढ़ने के आसार हैं।
  • फिलहाल पाकिस्तान में तापमान 35 से 37 डि़ग्री है जो बढ़कर 40 से 42 डिग्री सेल्सियस या फिर उससे भी अधिक को सकता है।
  • इससे पहले भी पाकिस्तान को जून 2015 में इसी तरह के चक्रवात फेट का सामना करना पड़ा था। जिस वजह से 5 दिनों तक पाकिस्तान में भीषण गर्मी देखने को मिली थी।
  • रमजान के महीनों में गर्मी की वजह से पानी की किल्लत हो गई थी जिस वजह से कराची में 3000 लोगों की मौत हो गई थी।

Read More- लू से बचने के लिए गर्मियों में रोज़ पीएं ये होममेड जूस, मिलेगी तुरंत राहत

To read more stories like cyclone vayu increase heat in pakistan, do follow us on FacebookTwitter, and Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. The usage of the content and images on this website is intended to promote the works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2018 Tentaran.com. All rights reserved.