Delhi mein ghumne ki jagah: जानिए दिल्ली की कौन सी फेमस जगहों पर आप घूम सकते हैं

Please follow and like us:

Delhi mein ghumne ki jagah – Best Places To Visit in Delhi hindi – Tourist Places In Delhi – भारत की राजधानी दिल्ली में  लगभग सभी राज्यों के लोग रहते हैं। दिल्ली की गिनती भारत के सबसे बड़े शहरों में की जाती है। दिल्ली यमुना नदी के किनारे बसा हुआ है। दिल्ली शहर का इतिहास सिंधु घाटी सभ्यता से जुड़ा हुआ कहा जाता है और महाभारत काल में दिल्ली का नाम इंद्रप्रस्थ हुआ करता था। दिल्ली में कई प्राचीन एवं मध्यकालीन इमारतों तथा उनके अवशेष आज भी देखने को मिलते हैं। लोग दूर – दूर से आकर यहाँ की प्रसिद्ध जगहों पर घूमते हैं। दिल्ली को दिल वालों की दिल्ली भी कहा जाता है। जब आप यहाँ पर घूमने आएंगे तो आपको इस बात का पता चल जाएगा। तो चलिए आपको बताते हैं आप दिल्ली की कौन – कौन सी फेमस जगहों पर घूम सकते हैं।delhi mein ghumne ki jagah

Delhi mein ghumne ki jagah – Best Places To Visit in Delhi hindi

लाल किला – Red Fort

Red Fort

  • लाल किला शाहजहां ने 1648 में 17वीं शताब्दी में लाल पत्थरों का इस्तेमाल करके बनाया था। इसी कारण इस एतिहासिक स्थल का नाम लाल किला पड़ गया।
  • इस किले के चारों ओर गहरी खाई है जो इसकी सुरक्षा के लिए बनी थी।
  • लाल किले के मुख्य द्वार पर एक मीना बाज़ार है। यहां आपको अनेक भव्य इमारतें, दीवाने आम ,दीवाने खास, रंग महल देखने को मिलेंगे।
  • इसकी छत पर बड़ी सुंदर नक्काशी की गई है। मुगल काल में इसकी दीवारें रतन जड़ित थी।
  • 15 अगस्त को हर साल स्वतंत्रता दिवस पर भारत के प्रधानमंत्री लाल किले से तिरंगा लहराते हैं।

delhi mein ghumne ki jagah kahan hai

इंडिया गेट – India Gate

India Gate

  • इंडिया गेट 1931 में बनाया गया था और इसकी ऊंचाई 42 मीटर है। यह नई दिल्ली के राजपथ पर बना हुआ है।
  • भारत की आज़ादी के बाद इसे अमर जवान ज्योति के रूप में भी जानते हैं।
  • शहीद सैनिकों की याद में यहां एक राइफल के ऊपर सैनिक की टोपी रखी गई है जिसके चार कोनों पर हमेशा ‘अमर जवान ज्योति जलती’ हुई आपको दिखाई देगी। ये साल 1971 से लगातार जल रही है।
  • यह उन भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए है जिन्होंने युद्ध के दौरान अपने जीवन को भारत देश के लिए कुर्बान कर दिया। इस खूबसूरत इमारत पर कई सैनिकों के नाम लिखे हुए हैं।

Must Read: क्या आप जानते हैं इंडिया गेट कब, किसने और क्यों बनवाया?

Delhi me ghumne ki jagah 

जामा मस्जिद – Jama Masjid

Jama Masjid

  • ‘जामा मस्जिद’ दिल्ली में है और इसको भी शाहजहाँ ने बनवाया था।
  • ईद पर हर साल हज़ारों श्रद्धालु यहाँ सुबह नमाज अदा करने आते हैं।
  • आंगन में पच्चीस हज़ार लोग इस मस्जिद में नमाज अदा कर सकते हैं लेकिन नमाज के दौरान गैर-मुस्लिमों को मस्जिद के अंदर जाने नहीं दिया जाता ।
  • जामा मस्जिद दिल्ली के पुराने हिस्से में है, जिसे अब लोग चांदनी चौक के नाम से जानते हैं।

Must read: जानिए दिल्ली में कौन-कौन से प्रसिद्ध मंदिर हैं, जहां लगा रहता है भक्तों का तांता

Delhi mein ghumne ki jagah

हुमायूँ का मकबरा – Humayun Tomb

Humayun Tomb

  • हुमायूँ का मकबरा साल 1569 से 1570 के बीच हुमायूँ की बेगम हमीदा बानो ने बनवाया था।
  • यह मकबरा दिल्ली के निज़ामुद्दीन में स्थित है। इस शानदार मकबरे का वास्तुकार ‘मीराक मिर्ज़ा घियाथ’ था जो एक फारसी व्यक्ति था ।
  • इस मकबरे के आस – पास कई बाग बगीचे आपको देखने को मिल जाएंगे। यहां मुग़ल शासक हुमायूँ के साथ – साथ कई अन्य शासको की कब्रे भी बनी हुई हैं।

जंतर मंतर – Jantar mantar

Jantar mantar

  • दिल्ली के जंतर मंतर को एक विशाल खगोलीय वेधशाला कहा जाता है जिसको महाराजा सवाई जय सिंह दुतिये ने साल 1724 में बनवाया था।
  • दिल्ली के अलावा देश के अन्य चार जंतर मंतर जो जयपुर, मथुरा, वाराणसी और उज्जैन में हैं वो भी भी महाराजा जय सिंह ने बनवाये थे।
  • जयसिंह ने इस वेधशाला को समय और ग्रहों की गति का अध्ययन करने के लिए बनवाया था।
  • यहाँ कुल 13 आर्किटेक्चरल एटोनामी इंस्ट्रूमेंट आपको मिल जाएंगे। इसमें एक सम्राट यंत्र है जो सूर्य की मदद से समय और ग्रहों की जानकारी उपलब्ध कराता है।
  • राम यंत्र जो खगोलीय पिंडो की गति के बारे में जानकारी देता है तथा मिस्र यंत्र जो वर्ष के सबसे छोटे और सबसे बड़े दिन की जानकारी देता है।

Must Read: ये हैं दिल्ली के पास घूमने की जगह जहाँ एक छोटा ब्रेक भी कर देगा आपको रिफ्रेश

Delhi mein ghumne ki jagah

क़ुतुब मीनारQutub Minar

Qutub Minar

  • क़ुतुब मीनार की गिनती दुनिया की सबसे ऊँची मीनारों में होती है। यह मीनार दक्षिण दिल्ली में महरौली नामक जगह पर बनी हुई है।
  • इस प्राचीन ईमारत को साल 1192 ईस्वीं में क़ुतुब “उद-दीन-एबक” ने बनाया था लेकिन वो इसे पूरा नहीं बनवा सके थे। बाद में कई शासको ने इसे अपने – अपने शासन काल में पूरा बनवाया।
  • इस मीनार की ऊंचाई लगभग5 मीटर है और इसको दिल्ली का दूसरा सबसे बड़ा स्मारक कहते हैं।
  • यहाँ पर क़ुतुब मीनार के अलावा आयरन पिलर और अलाई दरवाज़ा जैसी कई एतिहासिक इमारते हैं जो देखने में बहुत सुंदर लगती हैं। इसे यूनेस्को द्वारा ‘वर्ल्ड हेरिटेज साईट ‘का दर्जा मिल चुका है।

delhi mein ghumne ki best jagah

लोटस टेम्पल – Lotus Temple

Lotus Temple

  • दिल्ली में बना ये लोटस टेम्पल एक सफेद कमल के फूल के समान दिखाई देता है जो दिल्ली के नेहरु प्लेस में बना हुआ है ।
  • यह खूबसूरत मंदिर 1986 में बना था और इसका वास्तुकार फारिवोज साहबा थे जो एक कनाडाई व्यक्ति थे।
  • इस मंदिर के अंदर न तो कोई मूर्ति है और न ही किसी प्रकार की पूजा पाठ इसमें होती है। यह एक बहाई उपासना मंदिर है।

Must Read: अपने चाहने वालों के साथ खुल कर एक्स्प्लोर करें दिल्ली के ये 5 रूफटॉप कैफे

delhi mein ghumne ki jagah bataiye

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर – Swaminarayan Akshardham Mandir

Akshardham Temple

  • स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर दिल्ली में यमुना नदी के तट पर बना हुआ है।
  • इसको 6 नवम्बर 2005 में बनाया गया था। इस मंदिर के अंदर भगवान स्वामीनारायण की मूर्ति स्थापित की गयी है। यह मंदिर भारतीय संस्कृति को दिखाता है।
  • यह दुनिया का सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर है। इस मंदिर में कुल 234 पिलर, 9 गुम्बद और करीब 20000 साधुओं और आचार्य की मूर्तियाँ बनी हुई हैं। इसके अलावा मंदिर में कुल 148 हाथी भी बने हैं।
  • इस मंदिर का नाम ‘गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में भी दर्ज है।
  • यहाँ पर शाम के समय वाटर और लाइट शो भी दिखाये जाते हैं जिसमे एक इंसान के पैदा होने से मृत्यु तक के जीवन काल को पानी और रौशनी से दिखाया जाता है।

Must Read: अक्षरधाम मंदिर से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें

गुरुद्वारा बंगला साहिबGurudwara Bangla Sahib

Gurudwara Bangla Sahib

  • गुरुद्वारा बंगला साहिब नई दिल्ली में स्थित सिक्खों का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है जो सिक्खों के आठवें गुरु हरी कृष्ण साहब की याद में बनाया गया था।
  • इस गुरूद्वारे को 1783 ईस्वीं में सिख जनरल सरदार भागल सिंह ने बनवाया था।
  • यहाँ आपको पानी का एक विशाल तालाब भी देखने को मिल जाएगा जिसमे कई रंग बिरंगी मछलियाँ तैरती रहती हैं। इस गुरूद्वारे में आने वाले भक्तों को लंगर भी कराया जाता है।

delhi mein ghumne ki famous jagah kaun kaun si hai

पुराना किला – Purana Qila

Purana Qila

  • इस किले को शेर शाह सूरी ने वर्ष 1538 से 1545 ईस्वी के बीच बनवाया था।
  • इसके बारे में ऐसा माना जाता है कि ये वर्तमान में इन्द्रप्रस्थ नामक स्थान पर बना हुआ है जो महाभारत काल में कभी पांडवों की राजधानी होती थी।
  • इस किले में हुमायूँ गेट, तलाकी गेट और बड़ा दरवाज़ा जैसे तीन मुख्य द्वार बने हुए हैं। शाम के समय यहाँ लाइट शो भी होता है जिसका आप आनंद उठा सकते हैं।

delhi mein ghumne ki jagah – delhi mein ghumne ki achi jagah

नेशनल वॉर मेमोरियल – National War Memorial

National War Memorial

  • नेशनल वॉर मेमोरियल राष्ट्रीय स्मारक दिल्ली के इंडिया गेट मार्ग पर स्थित है।
  • इसे सन् 1965 के भारत चीन युद्ध, सन् 1947 के भारत पाक युद्ध और 1999 के कारगिल युद्ध में शहीद हुए वीर जवानों की याद में बनवाया गया है।
  • इस मेमोरियल के बीचों बीच एक 15 मीटर ऊँची पिलर है जिसके नीचे अखंड ज्योति हमेशा जलती रहती है। यहाँ पर युद्ध में शहीद हुए जवानों के नाम भी आपको लिखे हुए मिल जाएंगे।
  • इस मेमोरियल की सजावट चारों तरफ से लाइटिंग से की गयी है जो रात को देखने में बहुत सुंदर लगती है।

Must Read: जानिए क्या है नेशनल वॉर मेमोरियल की खासियत

delhi mein ghumne ki famous jagah

राष्ट्रपति भवन – Rashtrapati Bhavan

Rashtrapati Bhavan

  • राष्ट्रपति भवन करीब 330 एकड़ में बना हुआ है। यह भवन 1912 में बनना शुरू हुआ और 1929 में ये बनकर तैयार हुआ।
  • इस भवन में कुल 340 कमरे हैं और 700 से भी अधिक कर्मचारी काम करते हैं। राष्ट्रपति भवन के हॉल में एक साथ 104 लोगों के बैठने की व्यवस्था है।
  • इस भवन में आपको एक रोबोट कुत्ता भी देखने को मिलेगा जो बिल्कुल एक असली कुत्ते जैसा दिखाई देता है ।
  • यहाँ हर शनिवार को सुबह आधे घंटे के लिए चेन्ज ऑफ गार्ड्स इवेंट होता है जो हमेशा पर्यटकों के लिए खुला रहता है।

Must Read: रोमांस के लिए स्वर्ग हैं दिल्ली के ये पार्क

Delhi mein ghumne ki jagah, हमारे फेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर हमें फ़ॉलो करें और हमारे वीडियो के बेस्ट कलेक्शन को देखने के लिए, YouTube पर हमें फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. We make every effort to link back to original content whenever possible. If you own rights to any of the images, and do not wish them to appear here, please contact us and they will be promptly removed. Usage of content and images on this website is intended to promote our works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2022 Tentaran.com. All rights reserved.
× How can I help you?