Ct scan kaise hota hai in hindi : सीटी स्कैन कैसे किया जाता है, जानें पूरी प्रक्रिया

Ct scan kaise hota hai in hindi

Ct scan kaise hota hai in hindi – ct scan process in hindi – ct scan kaise kiya jata hai – सीटी स्कैन के माध्यम से व्यक्ति के शरीर के विभिन्न अंगों की तस्वीरें ली जाती हैं। यह तस्वीरें कोई आम तस्वीर नहीं होती, इसके माध्यम से ली गई तस्वीरों में शरीर के अंगो का स्कैन किया जाता है। इसके माध्यम से क्रॉस सेक्शनल तस्वीरें बनती हैं जिनके ज़रिए शरीर के अंगों में हुई गड़बड़ी के संबंध में आसानी से समझा जाता है। सीटी स्कैन शरीर रक्त वाहिकाओं, सॉफ्ट टिशूज़ तथा हड्डियों समेत अन्य अंगों पर किया जाता है। अधिकतर लोग अपने शरीर के अंगों का सीटी स्कैन कराते हैं, यदि आप भी अपने किसी अंग का सीटी स्कैन कराने वाले हैं, तो यहां पढ़िए सीटी स्कैन की पूरी प्रक्रिया।

Ct scan kaise hota hai in hindi

Ct scan kaise hota hai in hindiCt scan Kya hai   – Ct scan kaise hota hai in hindi

सीटी स्कैन क्या है?
सर्वप्रथम यह जानना आवश्यक है कि सीटी स्कैन क्या होता है? सीटी स्कैन एक कंप्यूटरीकृत स्कैन है जिसे कंप्यूटराइज्ड टोमोग्राफी स्कैन भी (Computerized tomography scan) कहते हैं। इस स्कैन के माध्यम से शरीर के किसी भी अंग पर लगी चोट, बीमारी के विषय में पता चल सकता है।

Ct scan kaise hota hai in hindi

कब सीटी स्कैन कराने की ज़रुरत पड़ती है

  • जब आपके शरीर में किसी अंग की हड्डी टूट जाती है तो आपको सीटी स्कैन कराने के लिए कहा जाता है।
  • इसके साथ ही यदि टयूमर होता है तब भी सीटी स्कैन की सलाह दी जाती है।
  • ट्यूमर, इंफेक्शन, खून के थक्‍के आदि का केंद्र जानने के लिए सीटी स्कैन किया जाता है।
  • किसी थेरेपी या सर्जरी से पहले गाइडलाइन बनाने के लिए भी यह स्कैन किया जा सकता है।
  • यदि व्यक्ति के अंदर गंभीर बीमारी जैसे कैंसर, हृदय रोग, फेफड़े और लिवर आदि के ऊपर नज़र रखनी है तो सीटी स्कैन का उपयोग किया जाता है।
  • इसके अलावा शरीर के अंदर कहीं आंतरिक रक्त स्त्राव का पता लगाने के लिए भी सीटी स्कैन किया जाता है।

 Must read: सीटी स्कैन क्या होता है? शरीर के किन – किन हिस्सो का होता है सीटी स्कैन

सीटी स्कैन की प्रक्रिया

  • सीटी स्कैन टेस्ट के पहले कुछ विशेष प्रकार की डाई का इस्तेमाल शरीर पर किया जाता है जिसे कॉन्ट्रास्ट (Contrast) भी कहते हैं। जिस भी शरीर के अंग का स्कैन किया जा रहा है उस अंग की तस्वीर स्पष्ट नज़र आए इसके लिए कंट्रास्ट का प्रयोग किया जाता है।
  • यदि आपने पहले कभी सीटी स्कैन कराया है और आपको इस डाई से पहले कभी रिएक्शन हुआ है, तो अपने डॉक्टर को यह बात ज़रूर बताएं। ऐसे में डॉक्टर रिएक्शन से बचने के लिए कुछ दवाईयां दे सकता है।
  • जिस व्यक्ति का सीटी स्कैन किया जा रहा है उसके अंदर इंजेक्शन के माध्यम से डाई पहुंचाई जा सकती है।
  • इसके अतिरिक्त इस प्रकार की डाई को पीकर भी शरीर के अंदर लिया जा सकता है। इसका स्वाद कुछ चौक की तरह होता है। आप पीने के बाद इसे मल के माध्यम से बाहर निकाल देंगे।
  • सीटी स्कैन कराने वाले व्यक्ति को जब डाई दिया जाता है तो उसको अगले 4 से 5 घंटे तक कुछ भी खाने पीने की मनाही होती है।

 Must read: सेतुबंधासन करने का तरीका और फायदे

Ct scan kaise hota hai in hindi

सीटी स्कैन से पहले ध्यान देने योग्य बातें

  • यदि आप एक डायबिटीज के मरीज हैं और आपने सीटी स्कैन से पहले डायबिटीज की दवाई खाई है तो अपने डॉक्टर को यह बात अवश्य बताएं।
  • डाई देने से पहले यह भी देखा जा सकता है कि उस व्यक्ति को किडनी से संबंधित कोई समस्या तो नहीं है।
  • प्रेगनेंट महिला को भी सीटी स्कैन से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य लेना चाहिए।

Ct scan kaise hota hai in hindi ct scan process in hindi

सीटी स्कैन के दौरान होने वाली प्रक्रिया
सीटी स्कैन के दौरान किसी भी प्रकार का दर्द महसूस नहीं होता है। आधुनिक समय में अब स्कैन की प्रक्रिया कुछ ही समय में पूरी हो जाती है। अगर विस्तार से कहें तो लगभग 30 मिनट में ही सीटी स्कैन की प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

  • जिस व्यक्ति का सीटी स्कैन किया जाता है उसे हॉस्पिटल की ओर से गाउन पहनने को कहा जा सकता है।
  • इसके साथ ही ज्वेलरी या किसी भी प्रकार की धातु युक्त ज्वेलरी को पहनने से मना किया जा सकता है, क्योंकि इसके कारण सीटी स्कैन का रिज़ल्ट गड़बड़ हो सकता है।
  • इसके बाद आपको मशीन पर लेटने के लिए कहा जाता है। स्लाइडर पर पीठ के बल लेटने पर आप मशीन के अंदर चले जाते हैं और उसके बाद डॉक्टर स्कैनिंग करता है।

Ct scan kaise hota hai in hindi

  • स्कैनिंग के दौरान स्लाइडर ऊपर की ओर उठता है और इसके साथ ही एक्स रे मशीन चारों ओर घूमती है। यह एक्सरे मशीन हज़ारों तस्वीरें पैदा करती है जिसके चलते मशीन की थोड़ी आवाज़ सुनाई देती है। स्कैनिंग के दौरान स्लाइडर ऊपर नीचे होता रहता है।
  • स्लाइडर पर लेटने के बाद मरीज को हिलने डुलने से मना किया जाता है क्योंकि इसके चलते तस्वीरें धुंधली आ सकती हैं।

Ct scan kaise hota hai in hindi

  • बच्चों का जब सिटी स्कैन किया जाता है तो उन्हें दवाई देकर कुछ देर के लिए शांत कर दिया जाता है।
  • इस प्रकार सीटी स्कैन की प्रक्रिया पूरी होती है। इसमें किसी प्रकार की दिक्कत परेशानी नहीं होती है। सीटी स्कैन के दुष्प्रभाव भी व्यक्ति के शरीर पर पढ़ते हैं लेकिन तब जब सीटी स्कैन अधिक बार कराया जाता है।

 Must read: त्वचा व बालों का निखार बढ़ाने में सहायक है अखरोट का तेल

Ct scan kaise hota hai in hindi, हमारे फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर हमें फ़ॉलो करें और हमारे वीडियो के बेस्ट कलेक्शन को देखने के लिए, YouTube पर हमें फॉलो करें।  

Disclaimer: This article is solely for informational purposes. Do not self-diagnose or self-medicate, and in all cases consult a certified healthcare professional before using any information presented in the article. The editorial board does not guarantee any results and does not bear any responsibility for any harm that may result from using the information provided in the article.