Dengue malaria se bachne ke upay: जानिए महत्वपूर्ण घरेलू उपाय, जो बचा सकते हैं आपको डेंगू, मलेरिया से

Dengue malaria se bachne ke upay

Dengue malaria se bachne ke upayबारिश के मौसम में मच्छरों की प्रजाति बड़ी तादाद में फैलती है। इसके साथ ही मच्छरों से होने वाले विभिन्न रोग भी समाज में फैलना शुरू हो जाते हैं। मच्छरों से होने वाले रोग में मुख्य हैं डेंगू और मलेरिया। तो चलिए आपको बताते हैं डेंगू और मलेरिया से बचने के घरेलू उपाय। 

Dengue malaria se bachne ke upay Dengue malaria se bachne ke gharelu nuskhe

डेंगू : एडीज मच्छर से संचारित होने वाला रोग डेंगू एक भयानक वायरस है। ये बरसाती मौसम में तेज़ी से बढ़ता है। गड्डो में भरे पानी तथा गंदे पानी में ये मच्छर तेज़ी से पनपते हैं। जानलेवा डेंगू बीमारी बच्चों को जल्दी ही अपने कब्ज़े में ले लेती है।Dengue malaria se bachne ke upay

मलेरिया : गर्मी तथा बरसात के मौसम में फैलने वाला मलेरिया रोग एनोफ़िलीज़ मच्छर के काटने से होता है। मलेरिया का मच्छर साफ पानी में भी पैदा हो जाता है। अक्सर लोग मलेरिया का नाम सुनते ही डर जाते हैं क्योंकि मलेरिया एक जानलेवा बीमारी है। मलेरिया का इलाज उचित समय पर ना हो पाने पर मनुष्य की मृत्यु हो जाती है।

डेंगू तथा मलेरिया से बचने के लिए घरेलू उपाय – Dengue malaria se bachne ke upay

Dengue malaria se bachne ke gharelu nuskhe

 गिलोय :- यह एक ऐसी जड़ी बूटी है जो कि डेंगू तथा मलेरिया दोनों बीमारियों में कारगर मानी जाती है। इन दोनों ही बीमारियों में तेज़ बुखार आना एक मुख्य लक्षण है। तो आप शुरुआत में ही गिलोय की लकड़ी को उबालकर या फिर गिलोय की गोली खाकर बीमारी पर नियंत्रण कर सकते हैं। गिलोय को एक बर्तन में उबालकर या मिट्टी के बर्तन में रात भर रखकर सुबह छानकर दिन में चार बार काढ़ा बनाकर पीते रहें।

Must read:डेंगू क्या है, इसके लक्षण, इलाज़ और रोकथाम

Dengue malaria se bachne ke upay

 तुलसी :- सबके घरों में आसानी से पाया जाने वाला तुलसी का पौधा भी डेंगू तथा मलेरिया के रोग में लाभकारी होता है। तुलसी के पत्ते एंटीबायटिक होते हैं। तुलसी के पत्ते बुखार में काफी आराम देते हैं। मलेरिया के शुरुआती लक्षणों में ही मरीज को 8-10 तुलसी के पत्ते तथा 7-8 काली मिर्च पीसकर शहद के साथ दें।

Dengue malaria se bachne ke upay

लौंग का तेल : मच्छरों से बचाव के लिए हुए कई शोधों में यह बताया गया है कि लौंग का तेल मच्छरों के डंक से बचने में सहायक है। लौंग के तेल की महक से मच्छर शरीर के पास नहीं आते हैं। इसके लिए आप लौंग के तेल को नारियल के तेल के साथ मिलाकर अपनी त्वचा पर लगा सकते हैं। 

Must read:अदरक, नीम और तुलसी से करें मलेरिया को जड़ से खत्म

 नीम तेल : लौंग तेल की तरह ही नीम का तेल भी मच्छरों से बचने का एक अच्छा घरेलू साधन है। अमेरिका के नेशनल रिसर्च काउंसिल में हुए एक शोध में भी नीम तेल को मच्छर भगाने वाली रिपेलेंट क्रीम से ज़्यादा प्रभावी बताया है।

Dengue malaria se bachne ke upay

पोषक तत्व : डेंगू तथा मलेरिया बीमारियों में तरल पदार्थों का सेवन किया जाता है। इसके अतिरिक्त मरीज के शरीर में पोषक तत्वों की कमी को भी संतुलित करना होता है। इसके लिए खिचड़ी, दलिया तथा साबूदाना जैसे भोजन को खाना  चाहिए। 

  कपूर : मच्छरों को घर से भगाने के लिए कपूर भी सबसे कारगर उपाय है। ऐसे में मच्छर भगाने के लिए आप अपने कमरे में कपूर जलाकर रख दीजिए। आप देखेंगे कि अधिकतर मच्छर कमरे से बाहर चले जाएंगे क्योंकि कपूर की महक मच्छर सहन नहीं कर पाते हैं। 

Dengue malaria se bachne ke upay

लैवेंडर : लैवेंडर की खुशबू भी बहुत तेज़ होती है। इसकी महक भी मच्छरों को परेशान करती है। अतः मच्छर आपके घर में प्रवेश ना करे इसके लिए आप अपने घर में लैवेंडर स्प्रे का छिड़काव कर सकते हैं।

लहसुन : मच्छरों से बचने के लिए लहसुन भी एक अच्छा विकल्प है। लहसुन की कलियों को  पीसकर पानी में उबालकर, पानी का कमरे में छिड़काव करें। इससे मच्छर भाग जाएंगे। 

 Must read:चुकंदर, गाजर और पपीते के पत्तों में छिपे हैं प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय

Dengue malaria se bachne ke upayजैसी और भी रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर हमें फ़ॉलो करें और हमारे वीडियो के बेस्ट कलेक्शन को देखने के लिए, YouTube पर हमें फॉलो करें।

Disclaimer: This article is solely for informational purposes. Do not self-diagnose or self-medicate, and in all cases consult a certified healthcare professional before using any information presented in the article. The editorial board does not guarantee any results and does not bear any responsibility for any harm that may result from using the information provided in the article.