नमस्कार करने के पीछे क्या है वैज्ञानिक कारण

Reason Behind Namaskar – आपके घर में कोई भी मेहमान आता है, तो आप उसे हाथ जोड़ कर नमस्ते या नमस्कार बोलते हैं। ये हमारी हिंदू संस्कृति को दर्शाता है, साथ ही हमारे घर के संस्कारों को दिखाता है। कई देशों में हिंदू परंपराओं को अंधविश्वास समझते है, क्योंकि वो नहीं जानते की इन सब के पीछे वैज्ञानिक कारण भी होता है। आज हम आपको बताते हैं  कि आखिर नमस्ते के पीछे कौन से वैज्ञानिक और आध्यात्मिक कारण होते है।

 

reason behind namaskar

 

– हम नमस्ते कर के किसी दूसरे व्यक्ति की आत्मा को स्वीकार कर उसका सम्मान करते है और जब वो व्यक्ति आपकी नमस्ते स्वीकार कर लेता है, तो वो भी आपको वापसी में नमस्ते बोलता है। इससे उस इंसान के साथ हमारे आध्यात्मिक सबंध मजबूत होते हैं ।

 

– अक्सर कई व्यक्ति नमस्कार करते वक्त अपनी आंखे बंद करते हैं, तब उनका ध्यान अपनी आत्मा पर केंद्रित हो जाता है । इससे उन्हें आंतरिक शांति का एहसास होता है|

 

क्या आप जानते हैं कि हिंदू मंदिरों में घंटी क्यों बजाई जाती है?

 

– नमस्कार के पीछे वैज्ञानिकों का मानना है कि यह दबाव बिंदुओं को सक्रिय करता है क्योंकि नमस्कार करते वक्त आप हथेलियों और उंगलियों को एक साथ जोड़ते हैं । हथेलियों को दबाने से हम मन, आँखों और कानों के दबाव बिंदुओं को सक्रिय करते है, जो हमारी याददाश्त तेज करने में सहायक सिद्ध होती है।

 

hindu namaskar

 

– नमस्ते शब्द संस्कृत नमः शब्द से लिया गया है। किसी दूसरे वयक्ति को नमस्कार करने से आप उसके गुणों को स्वीकारते हैं| यह भावना अहंकार को दूर रखती है|

 

– नमस्ते करते वक्त किसी दूसरे व्यक्ति के साथ किसी भी तरह का शारीरिक संपर्क नहीं होता है, जिसके कारण किसी भी संभावित रोगाणुओं का हस्तांतरण नही होता और आपके बीमार होने का ख़तरा भी कम हो जाता है।

 

– नमस्ते करने के तरीके से दो व्यक्तियों के बीच सकारात्मक ऊर्जा का आदान-प्रदान होता है। भौतिक संपर्क ना हो पाने के कारण, दूसरे व्यक्ति से नकारात्मक ऊर्जा आप तक नहीं पहुँच पाती|

 

Read more news about Reason Behind Namaskar, namaste, religious practices, spiritual.

 

ऐसी ही और जानकरी के लिए हमारे न्यूजलेटर को सबस्क्राइब करें और फेसबुक,ट्विटर और गूगल पर हमें फ़ॉलों करें।

Reason Behind Namaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © 2018 Tentaran.com. All rights reserved.