सादगी, समर्पण और आत्मविश्वास की जीती-जागती मिसाल है सुधा मूर्ति

Please follow and like us:

Sudha Murthy interesting facts in Hindi – सुधा मूर्ति इन्फोसिस फाउंडेशन के संस्थापक एन. आर. नारायण मूर्ति की पत्नी एवं प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता हैं। ये एक ऐसी शख्सियत हैं जो ज़िंदगी को सादगी और आत्मविश्वास के साथ जीने में यकीन रखती हैं और यही सादगी और आत्मविश्वास उन्हें आज इस मुकाम पर ले आया है जिसे देखने के लिए लोगों को आसमान तक नज़रे बुलंद करनी पड़ती हैं। तो चलिए आपको बताते हैं सुधा मूर्ति की इस सफलता की कहानी।

sudha murthy interesting facts

शिक्षा और प्रारंभिक जीवन – Sudha Murthy interesting facts in Hindi

  • सुधा मूर्ति का जन्म 19 अगस्त 1950 को कर्नाटक के शिगगाँव में डॉ आर एच कुलकर्णी और उनकी पत्नी विमला कुलकर्णी की बेटी के रूप में हुआ।
  • सुधा ने बी.वी.बी. कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी से बी.ई. में इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की। वह अपनी कक्षा में प्रथम स्थान पर रही और कर्नाटक के मुख्यमंत्री से स्वर्ण पदक प्राप्त किया।
  • इसके बाद इन्होंने भारतीय विज्ञान संस्थान से कंप्यूटर विज्ञान में एम. ई. की पढ़ाई पूरी की और इसमे भी वह अपनी कक्षा में अव्वल रही और भारतीय अभियंत्रण संस्थान से स्वर्ण पदक प्राप्त किया।

Must read – कल्पना चावला जिन्होंने अपने सपनों की उड़ान से छू लिया था आसमान

करियर और निजी जीवन – Sudha Murthy interesting facts in Hindi

  • अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद सुधा मूर्ति भारत की सबसे बड़ी ऑटो निर्माता टाटा इंजीनियरिंग और लोकोमोटिव कंपनी (TELCO) में काम करने वाली पहली महिला इंजीनियर बनीं।
  • ये पुणे में विकास अभियंता के रूप में कंपनी में शामिल हुई और फिर मुंबई और जमशेदपुर में भी काम किया।
  • साल 1996 में उन्होंने इनफ़ोसिस (Infosys Foundation) की शुरुआत की और आज तक इनफ़ोसिस फाउन्डेशन की ट्रस्टी है।
  • ये बैंगलोर यूनिवर्सिटी के पीजी सेंटर में विजिटिंग प्रोफेसर हैं। इसके अलावा उन्होंने क्राइस्ट यूनिवर्सिटी में भी पढ़ाया है।
  • सुधा मूर्ति एक प्रभावशाली लेखिका भी हैं और उन्होंने आम आदमी की पीड़ाओं को अभिव्यक्ति देते हुए आठ उपन्यास भी लिखे हैं।
  • इन सभी उपन्यासों में महिला किरदारों को बेहद मज़बूत और सिद्धांतों पर अडिग दर्शाया गया है।
  • सुधा मूर्ति ने एन.आर. नारायण मूर्ति से विवाह किया। जो पुणे में TELCO में एक इंजीनियर के रूप में कार्यरत थे। इन दोनों के दो बच्चे हैं अक्षता और रोहन।

सामाजिक गतिविधि- सोशल वर्क – Sudha Murthy interesting facts in Hindi

  • मूर्ति ने स्वास्थ्य, शिक्षा, महिलाओं के सशक्तीकरण, सार्वजनिक स्वच्छता, कला और संस्कृति आदि के लिए कार्य किए। अब तक ये 50,000 से ज़्यादा पुस्तकालय स्थापित करा चुकी हैं।
  • बेंगलुरु में 10,000 सार्वजनिक शौचालय और कई सौ शौचालयों का निर्माण करके ग्रामीण क्षेत्रों में मद्द कर रही हैं।
  • इंफोसिस फाउंडेशन में स्थापित एक सार्वजनिक धर्मार्थ ट्रस्ट है और मूर्ति ट्रस्टियों में से एक है। इसके माध्यम से उन्होंने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 2,300 घर बनाए। तमिलनाडु और अंडमान में सुनामी, कच्छ में भूकंप, गुजरात, तूफान और उड़ीसा, आंध्र प्रदेश में बाढ़ और कर्नाटक और महाराष्ट्र में सूखे जैसी राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदाओं को संभाला है।
  • कर्नाटक सरकार ने उन्हें वर्ष 2011-12 के लिए उनके साहित्यिक कार्य प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कार “अत्तिम्बे अवार्ड” से सम्मानित किया।

Must read – ये हैं भारतीय सेना की महिला ऑफिसर्स जिन्होंने रचा इतिहास

सुधा मूर्ति द्वारा लिखी गई पुस्तकें – Sudha Murthy interesting facts in Hindi

  • सुधा मूर्ति की कन्नड़ और अंग्रेजी भाषा में काफी अच्छी पकड़ है। ये एक प्रसिद्ध लेखिका भी हैं। मुख्य रूप से इन्होंने पेंगुइन के माध्यम से कई किताबें प्रकाशित की, जिसमें काल्पनिक कथाओं के माध्यम से दान, आतिथ्य और आत्म-साक्षात्कार पर अपने दार्शनिक विचारों को व्यक्त किया है।
  • कन्नड़ में उनकी कुछ उल्लेखनीय पुस्तकें Dollar Bahu, Runa, Gently Falls the Bakula हैं। उनकी किताब “How I Taught My Grandmother to Read and Other Stories” का हिंदी, मराठी और असमिया सहित 15 भाषाओं में अनुवाद किया गया है।
  • उनकी नवीनतम पुस्तक “The Day I Stopped Drinking Milk” है। उनके द्वारा लिखी गई अन्य उल्लेखनीय पुस्तकें हैं, वाइज एंड ओल्ड, ओल्ड मैन एंड द गॉड, द मैजिक ड्रम एंड अदर फेवरिट स्टोरीज और जेंटली फॉल्स द बकुला मराठी फिल्म पितृरूप सुधा मूर्ति की एक कहानी पर आधारित है।

Must read – जानिए भारत में इतिहास रचने वाली आदर्श महिलाओं के बारे में

पुरस्कार – Sudha Murthy interesting facts in Hindi

  • राष्ट्रपति डॉ ए. पी. जे. अब्दुल कलाम द्वारा इन्हें पद्म श्री पुरस्कार दिया गया था।
  • एम.टेक में पहली रैंक हासिल करने के लिए भारतीय इंजीनियर्स संस्थान से स्वर्ण पदक मिला।
  • इंजीनियरिंग की सभी शाखाओं के E में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने के लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री श्री देवराज उर्स ने स्वर्ण पदक से सम्मानित किया।
  • कर्नाटक में इंजीनियरिंग के सभी विश्वविद्यालय SSLC में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने के लिए नकद पुरस्कार दिया गया।
  • रोटरी क्लब ऑफ़ बैंगलोर की ओर से 1995 में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक पुरस्कार दिया गया।
  • कन्नड़ में उनकी तकनीकी पुस्तक के लिए ‘अत्तिमाबे’ पुरस्कार मिला।
  • रोटरी साउथ द्वारा उत्कृष्ट सामाजिक सेवा के लिए हुबली पुरस्कार दिया गया।
  • 2000 में साहित्य और सामाजिक कार्यों के क्षेत्र में उपलब्धि के लिए “कर्नाटक राज्योत्सव” का राज्य पुरस्कार।
  • 2001 में ‘ओजस्विनी’ पुरस्कार दिया गया।
  • 2006 में आर.के. साहित्य के लिए नारायण पुरस्कार।
  • 2011 में मानद एलएलडी (डॉक्टर ऑफ लॉ) की उपाधि से सम्मानित किया गया।
  • 2013 में बसवाश्री पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • 2018 में मूर्ति को क्रॉसवर्ड-रेमंड बुक अवार्ड्स में लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड मिला।

fun facts about sudha murthy

Must read – India’s Top Five Business Women

For more articles like, Sudha Murthy interesting facts in Hindiजैसी ख़बरों के लिए हमारे फेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर हमें फ़ॉलो करें और हमारे वीडियो के बेस्ट कलेक्शन को देखने के लिए, YouTube पर हमें फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. We make every effort to link back to original content whenever possible. If you own rights to any of the images, and do not wish them to appear here, please contact us and they will be promptly removed. Usage of content and images on this website is intended to promote our works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2021 Tentaran.com. All rights reserved.
× How can I help you?