Union Budget 2019 – जानिए बजट में हुई सस्ती और महंगी चीजों की पूरी लिस्ट

Please follow and like us:

union budget 2019 highlightदेश की पहली महिला वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का बजट पेश किया। देश में पहली बार बजट की प्रथा में बदलाव देखने को मिला। इस बार बजट का नाम बदलकर बहीखाता रखा गया। यह बजट किसी बैग या सूटकेस में नहीं बल्कि लाल रंग के कपड़े में दिखा। आइए जानिए इस बजट से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें जिन्हें आपके लिए जानना ज़रूरी है। 

union budget 2019 highlight

अर्थव्यवस्था union budget 2019 highlight

  • अर्थव्यवस्था पिछले पांच सालों में 2.7 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंची है। इस वर्ष यह लक्ष्य 3 ट्रिलियन डॉलर रखा गया है जिसमें 10 लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं।
  • इसमें भौतिक संरचना का विकास, डिजिटल इंडिया, हरित मातृभूमि और प्रदूषण मुक्त भारत, एमएसएमई, स्टार्टअप, डिफेंस, ऑटो और हेल्थ सेक्टरजल प्रबंधन और स्वच्छ नदियां और ब्लू इकोनॉमी हैं। 
  • इसके अलावा गगनयान और चंद्रयान मिशन, खाद्यान्न, स्वस्थ समाज, आयुष्मान भारत और सुपोषित महिलाएंबच्चे, जनभागीदारी, न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन को इनमें शामिल किया गया है।

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार की पांच साल की उपलब्धियांए जो हैं काबिल ए तारीफ

स्टार्टअप, महिलाओं और प्रवासी

  • स्टार्टअप के लिए सरकार ने एक्सक्लूसिव टीवी चैनल शुरू करने का ऐलान किया है। जिससे देश में स्टार्टअप को बढ़ावा मिलेगा। 
  • स्टार्टअप और उनके द्वारा जुटाए गए फंड के मामले में आयकर किसी तरह की जांच नहीं की जाएगी। 
  • सरकार द्धारा स्टडी इन इंडिया योजना को लागू किया जाएगा,जिससे ज्यादा से ज्यादा विदेशी छात्रों को भारत में उच्च शिक्षा दी जाएगी। 
  • पिछले 5 साल में विश्व के टॉप 200 यूनिवर्सिटीज की लिस्ट में भारत की 3 यूनिवर्सिटी शामिल हैं।
  • महिलाओं के लिए नारी तू नारायणी योजना को लागू किया जाएगा। इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था में महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा जोड़ा जाएगा। 
  • अब भारतीय पासपोर्ट रखने वाले प्रवासी भारतीयों को भारत में आते ही आधार कार्ड मिल सकेगा। इसके लिए उन्हें 180 दिन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।
  • 2019-20 में चार नए दूतावास खोले जाएंगे, जिससे भारत के प्रभाव और नेतृत्व को दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचाया जाएगा। 
  • सेल्फ हेल्प ग्रुप में काम करने वाली किसी एक महिला को मुद्रा स्कीम के तहत 1 लाख रुपए का कर्ज मिलने में आसानी होगी।

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार की मुस्लिमों को सौगात, पांच साल में 5 करोड़ छात्रों को देगी स्कॉलरशिप

विद्यार्थियों के लिए 

  • शिक्षा व्यवस्था को बदलने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति बनाई जाएगी। इसके लिए 400 करोड़ रुपए से विश्व स्तरीय संस्थान बनाए जाएंगे।
  • रिसर्च में बढ़ावा देने के लिए नेशनल रिसर्च फाउंडेशन बनाने का प्रस्ताव दिया गया है। 

टैक्स स्लैब

  • प्रत्यक्ष कर संग्रह 2013-14 में 6.38 लाख करोड़ से बढ़कर 2018-19 में 11.37 लाख करोड़ रुपए कर दिया गया है। इसमें 78 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है। 
  • 2 करोड़ से 5 करोड़ रुपए की सालाना आय वालों के लिए सरचार्ज बढ़ाकर 3 प्रतिशत और 5 करोड़ रुपए से ज्यादा की सालाना आय वालों के लिए सरचार्ज बढ़ाकर 7 प्रतिशत किया जाएगा।
  • जिन कम्पनियों का सालाना टर्नओवर 250 करोड़ रुपए है उनके लिए कॉर्पोरेट टैक्स अभी 25 प्रतिशत है। इसके साथ ही अब 400 करोड़ रुपए के टर्नओवर वाली कंपनियां भी 25 प्रतिशत कॉर्पोरेट टैक्स के दायरे में आ जाएंगी। 
  • यानी 99.3 प्रतिशत कंपनियां 25 प्रतिशत कॉर्पोरेट टैक्स के दायरे में होंगी, सिर्फ 0.7 प्रतिशत कंपनियां इस स्लैब से बाहर हो गई है। 

ये भी पढ़ें- जानें अटल से मोदी तक, कैसे वक्त के साथ बढ़ता रहा बीजेपी का कारवां

टैक्स में छूट

  • इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के लिए अगर कर्ज लिया गया है तो उसका ब्याज चुकाने पर आयकर में 1.5 लाख रुपए की अतिरिक्त छूट दी गई है। यह छूट 31 मार्च 2020 तक खरीदे जाने वाले घर पर लागू होगी। 
  • 120 करोड़ से ज्यादा लोगों के पास आधार कार्ड है। वे लोग पैन कार्ड से इनकम टैक्स रिटर्न भर सकेंगे।
  • कैश में बिजनेस पेमेंट्स करने की प्रवृत्ति को रोकने के लिए अब एक बैंक खाते से साल में 1 करोड़ से ज्यादा निकालने पर 2 प्रतिशत का टीडीएस लगाया जाएगा।
  • कैशलेस पेमेंट पर मर्चेंट डिस्काउंट रेट एमडीआर चार्ज खत्म कर दिया गया है। 
  • पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी और रोड-इन्फ्रास्ट्रक्चर सेस 1.1 रुपए प्रति लीटर बढ़ाया गया है। इसके अलावा गोल्ड और बेशकीमती रत्नों पर कस्टम ड्यूटी 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 12.5 प्रतिशत कर दिया गया है। 

ये भी पढ़ें:  जानिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुछ अनसुनी बातें

बैंकिंग

  • जनधन बैंक खाता रखने वाली महिलाओं को 5000 रूपए के ओवर ड्राफ्ट की सुविधा दी जाएगी। आईबीसी और दूसरे प्रयासों से 4 लाख करोड़ रुपए की रिकॉर्ड रिकवरी हुई है।
  • कमर्शियल बैंकों में एनपीए एक लाख करोड़ से ज्यादा घटा है। डोमेस्टिक क्रेडिट ग्रोथ 13.8 प्रतिशत तक बढ़ी है। 70 हजार करोड़ रु दिए जाएंगे ताकि पब्लिक सेक्टर बैंकों की कैपिटल बढ़ सके। 
  • इसके अलावा 1,2,5,10 और 20 के सिक्के जल्द ही जारी किए जाएंगें। 

union budget 2019 highlight

ग्रामीण और शहर

  • अगले 5 साल में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 1.25 लाख किमी सड़कें बनाई जाएंगी। जिस पर 80250 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगें।
  • 2022 तक हर घर में बिजली और घरेलू गैस पहुंचाई जाएगी।
  • 35 करोड़ एलईडी बल्ब उजाला योजना के तहत बांटे गए। इससे करीब 18 हजार 341 करोड़ रूपए की बचत हुई है और यह बचत सालाना है।
  • जल-जीवन मिशन के तहत 2024 तक हर ग्रामीण घर में पानी पहुंचाया जाएगा।
  • बजट में जीरो बजट खेती पर जोर दिया गया है। इसमें खेती के बुनियादी तरीकों पर लौटना इसका मूल उद्देश्य है। इससे किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य पूरा हो सकेगा।
  • 2022 तक सरकार ने सभी के लिए आवास का लक्ष्य रखा है। 2019-20 से 2022 तक 1.95 करोड़ मकानों का निर्माण किया जाएगा। इनमें टॉयलेट, बिजली और रसोई गैस कनेक्शन दिए जाएंगे।
  • प्रति मकान निर्माण का लक्ष्य 314 की जगह 114 दिन किया गया है। 97 प्रतिशत लोगों को हर मौसम में सड़क मिलेगी।

ये भी पढ़ें:  अमित शाह जम्मू-कश्मीर में नए सिरे से परिसीमन पर विचार कर रहे हैं

निवेश

  • 2018 से 2030 के बीच रेलवे इन्फ्रास्ट्रक्चर में 50 लाख करोड़ निवेश की बात की गई है। इसके तहत पीपीपी मॉडल का इस्तेमाल किया जाएगा, यात्री भाड़े से जुड़ी सेवाओं के विकास पर बल मिलेगा।
  • मार्च 2019 में देश में ट्रांसपोर्ट के लिए नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड लॉन्च किया गया है। यह देश का पहला स्वदेशी पेमेंट सिस्टम है, इसके ज़रिए लोग कई तरह के ट्रांसपोर्ट चार्ज का पेमेंट एक ही कार्ड से किया जा सकेगा।
  • फ्रेश या इन्क्रिमेंटल लोन पर सभी जीएसटी रजिस्टर्ड एमएसएमई को 2 प्रतिशत अनुदान के लिए 350 करोड़ रूपए का प्रावधान पेश किया गया है। 
  • 1.5 करोड़ के टर्नओवर वाले खुदरा दुकानदारों को प्रधानमंत्री कर्मयोगी मानधन योजना के तहत पेंशन की सुविधा दी गई है। इसके तहत 3 करोड़ अतिरिक्त दुकानदारों को पेंशन का लाभ मिलेगा।

 

ये हुआ महंगा

 

  • पेट्रोल-डीजल, सोना, काजू महंगे होंगे। आयात शुल्‍क में इजाफा होने से कई चीजों के दाम भी बढ़ेंगे। आयातित किताबों पर पांच प्रतिशत का शुल्क लगेगा। ऑटो पार्ट्स, सिंथेटिक रबर, पीवीसी, टाइल्‍स भी महंगी हो जाएंगी। तंबाकू उत्‍पाद भी इस बजट के बाद महंगे हो जाएंगे। सोने के अलावा चांदी और चांदी के आभूषण खरीदने के लिए भी अतिरिक्‍त रुपये खर्च होंगे। ऑप्टिकल फाइबर, स्‍टेनलेस उत्‍पाद, मूल धातु के फिटिंग्स, फ्रेम और सामान, एसी, लाउडस्‍पीकर, वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरा, वाहन के हॉर्न, सिगरेट आदि महंगे हुए हैं। तेल रसायन और साबुन बनाने में उपयोग करने के लिए जैतून ऐसटिरिन और अन्‍य तेल जिसमें 20 प्रतिशत या इससे अधिक वसायुक्‍त अम्‍ल होबुटाइल रबर, अखबारी कागज, वॉल टाइलें, पॉवर एडेप्‍टर, विंकस्‍क्रीन वाइपर्स, ऑटोमोबाइल के लैम्‍प और बीम लाइट महंगे हुए हैं।

 

ये हुआ सस्‍ता

  • बजट 2019 के बाद इलेक्ट्रिक कारें सस्‍ती हो जाएंगी। अभी ये कारें चलन में नहीं हैं लेकिन दाम कम होने से इन कारों का इस्‍तेमाल अधिक होगा। बजट के बाद होम लोन लेना भी सस्‍ता होगा, मतलब घर खरीदना सस्‍ता होगा। सस्ते घरों के लिए ब्याज पर 3.5 लाख रुपये की छूट मिलेगी। साबुन, शैंपू, बालों का तेल, टूथपेस्‍ट, डिटर्जेंट, बिजली का घरेलू सामान जैसे पंखे, लैम्‍प, ब्रीफ केस, यात्री बैग, सेनिटरी वेयर, बोतल, कंटेनर, रसोई में प्रयुक्‍त सामान जैसे बर्तन, गद्दा, बिस्‍तर, चश्‍मों के फ्रेम, बांस का फर्नीचर, पास्‍ता, मयोनेज, धूपबत्‍ती, नमकीन, सूखा नारियल, सैनिटरी नैपकिन। ऊन और ऊनी धागे, खाद्य वस्‍तुएं जैसे चॉकलेट, वैफर्स, कस्‍टर्ड पाउडर, संगीत के उपकरण सस्‍ते।

ये भी पढ़ें:  अमित शाह को क्यों कहा जाता है चाणक्य’, जानें उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें

To read more stories like union budget 2019 highlight,

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. We make every effort to link back to original content whenever possible. If you own rights to any of the images, and do not wish them to appear here, please contact us and they will be promptly removed. Usage of content and images on this website is intended to promote our works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2022 Tentaran.com. All rights reserved.
× How can I help you?