What is BRICS Summit in Hindi – ब्रिक्स क्या है और कब हुई थी इसकी स्थापना

Please follow and like us:

What is BRICS Summit in HindiBRICS full form in Hindi14वां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन 23-24 जून 2022 को आयोजित किया जाएगा। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग बीजिंग, चीन से कार्यक्रम की मेज़बानी करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई दिल्ली से शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे। तो चलिए आपको बताते हैं ब्रिक्स क्या है और कब हुई थी इसकी स्थापना, क्या है इसका इतिहास।

What is BRICS Summit in Hindi

What is BRICS Summit in Hindi

ब्रिक्स शिखर सम्मेलन क्या है – What is BRICS Summit in Hindi

ब्रिक्स (BRICS) पांच उभरती राष्ट्रीय अर्थव्यवस्थाओं ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका से बना समूह है। इसके घटक राष्ट्र ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका हैं। इस संगठन की स्थापना वर्ष 2006 के जून माह में रूस द्वारा की हुई थी। पहला शिखर सम्मलेन वर्ष 2009 में रूस के शहर येकातेरिनबर्ग में आयोजित किया गया था। इस सम्मलेन में साउथ अफ्रीका सदस्य नहीं था। जब दक्षिण अफ्रीका इस संगठन का सदस्य नही था, तब इसे केवल “ब्रिक” के नाम से ही जाना जाता था और इसके सदस्य राष्ट्र ब्राजील, रूस, भारत और चीन थे। दिसंबर 2010 में दक्षिण अफ्रीका इस संगठन में शामिल हुआ और अब इसे ब्रिक्स के नाम से जाना जाने लगा। ब्रिक्स अपने प्रत्येक सदस्य के विकास और लक्ष्यों को ध्यान में रखता है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि संबंध संबंधित देश की आर्थिक ताकत पर बने हैं और जब भी संभव हो प्रतिस्पर्धा से बचने के लिए और सहयोग की भावना से मिलकर सामूहिक और व्यक्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करें। ब्रिक्स विश्व के पाँच सबसे बड़े विकासशील देशों को एक साथ लाता है, जो वैश्विक आबादी का 41%, वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का 24% और वैश्विक व्यापार का 16% प्रतिनिधित्व करता है। ब्रिक्स शिखर सम्मलेन की अध्यक्षता प्रतिवर्ष B-R-I-C-S के क्रमानुसार सदस्य देशों के सर्वोच्च नेता द्वारा की जाती है।

What is BRICS Summit in Hindi

ब्रिक्स फुल फॉर्म इन हिंदी –  BRICS full form in Hindi

B- ब्राजील

R- रूस

I – इंडिया,

C – चीन

S – साउथ अफ्रिका (B- Brazil, R- Russia, I- India, C- China, and S- South Africa)।

ब्रिक्स का मुख्यालय – BRICS Headquarters in Hindi

ब्रिक्स का मुख्यालय चीन में शंघाई में ब्रिक्स टॉवर में स्थित है। इसे अब न्यू डेवलपमेंट बैंक कहा जाता है और सदस्य देशों को वित्तीय सहायता प्रदान करता है

ब्रिक्स (BRICS) की स्थापना – BRICS ki sthapna in Hindi

अमेरिका का एक बहुराष्ट्रीय निवेश बैंक और वित्तीय सेवा प्रदाता कंपनी गोल्डमैन साक्स (Goldman Sachs) है। इसके अर्थशास्त्री और उस समय इस संस्था के अध्यक्ष जिम ओ’नील ने वैश्विक आर्थिक पत्र “द वर्ल्ड नीड्स बेटर इकोनोमिक” में वर्ष 2001 में ब्रिक शब्द का पहली बार प्रयोग किया। भारत, ब्राजील, रूस और चीन की अर्थव्यवस्था पर उन्होंने अनुसंधान किया और इन देशों की अर्थव्यवस्था का विश्लेषण करके एक लेख प्रकाशित किया जिसमें उन्होंने कहा कि आने वाले समय में ब्राजील, रूस, भारत एवं चीन की अर्थव्यवस्था अगले 50 वर्षों में विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होगी। सामूहिक रूप से विश्व के आर्थिक क्षेत्रों पर इनका नियंत्रण होगा। वर्ष 2006 में ब्राजील, रूस, भारत एवं चीन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में निर्णय लिया कि ब्रिक्स को वार्षिक शिखर सम्मेलन के रूप में आयोजित किया जाना चाहिये।

ब्रिक्स का अध्यक्ष – BRICS President in Hindi

ब्रिक्स शिखर सम्मेलन का आयोजन जिस राष्ट्र में किया जाता है, उस राष्ट्र के राष्ट्रीय अध्यक्ष इसकी अध्यक्षता करते हैं। सम्मेलन का आयोजन प्रत्येक साल किया जाता है।

ब्रिक्स देशों द्वारा किए गए महत्वपूर्ण कार्य – Important work done by BRICS countries in Hindi

साल 2014 में दो वित्तीय बैंक बनाए गए थे और इनके नाम क्रमशः न्यू डेवलपमेंट बैंक (नव विकास बैंक) और आकस्मिक रिजर्व व्यवस्था रखा गया है।

न्यू डेवलपमेंट बैंक – New Development Bank in Hindi

यह वर्ष 2014 के जुलाई महीने में ब्राज़ील के ‘फोर्टालेज़ा’ में आयोजित छठे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में ब्रिक्स देशों द्वारा संयुक्त रूप से स्थापित एक बहुपक्षीय विकास बैंक है और इसका संचालन साल 2015 में शुरू हुआ था। इस बैंक को शुरू करने का लक्ष्य बुनियादी परियोजनाओं का उद्धार करना था। इसका मुख्यालय शंघाई (चीन) में स्थित है। इस समय इस बैंक के महासचिव‎ ‎के. वी कामत है।

Must Read: 5 Industry Associations of India

ब्रिक्स का आकस्मिक रिजर्व इन हिंदीBRICS Contingent Reserve Arrangement (CRA) in Hindi

साल 2014 में ब्राजील में ब्रिक्स देशों द्वारा ब्रिक्स आकस्मिक रिजर्व व्यवस्था की स्थापना की गई है। इस संधि में सभी ब्रिक्स देशों ने हस्ताक्षर कर ब्रिक्स का आकस्मिक विदेशी-मुद्रा कोष व्यवस्था की स्थापना की थी

ब्रिक्स द्वारा अब तक के विकास की सूची इन हिंदी – List of Developments by BRICS so far in Hindi

  • ब्रिक्स फोरम, 2011 में गठित, एक स्वतंत्र अंतरराष्ट्रीय संगठन है जो ब्रिक्स देशों के बीच वाणिज्यिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक सहयोग को प्रोत्साहित करता है।
  • जून 2012 में, ब्रिक्स देशों ने आईएमएफ की शक्ति को बढ़ावा देने के लिए $75 बिलियन का सहयोग राशि देने का वादा किया था।
  • मार्च 2013 में, 5वें शिखर सम्मेलन के दौरान, सदस्य देश एक वैश्विक वित्तीय संस्थान बनाने पर सहमत हुए।
  • 15 जुलाई 2014 को, ब्रिक्स के 6वें शिखर सम्मेलन में 100 बिलियन अमेरिकी डॉलर के फण्ड के साथ न्यू विकास बैंक की स्थापना की और एक 100 अरब अमेरिकी डॉलर का आरक्षित मुद्रा कोष बनाया।
  • साल 2012 में ब्रिक्स समूह ने ब्रिक्स देशों के बीच दूरसंचार को बढ़ावा देने के लिए एक ऑप्टिकल फाइबर संचार केबल प्रणाली की योजना बनाई। इस परियोजना को ब्रिक्स केबल के नाम से जाना गया।
  • अगस्त 2019 में, ब्रिक्स देशों के संचार मंत्रियों ने सूचना और संचार प्रौद्योगिकी क्षेत्र में सहयोग करने के लिए एक आशय पत्र पर हस्ताक्षर किए।

ब्रिक्स शिखर सम्मेलन देशों की सूची 2009-2022 तक  – List of BRICS Summit Countries 2009-2022 in Hindi  – BRICS Summit list from 2009-2022

दिनांक मेज़बान देश मेज़बान नेता
16 जून 2009 रूस दिमित्री मेदवेदेव
15 अप्रैल 2010 ब्राजील लुइज़ इनासियो लूला डा सिल्वा
14 अप्रैल 2011 चीन हू जिंताओ
29 मार्च 2012 भारत मनमोहन सिंह
26-27 मार्च 2013 दक्षिण अफ्रीका जैकब जुमा
14-17 जुलाई 2014 ब्राजील डिल्मा रूसेफ
8-9 जुलाई 2015 रूस व्लादिमीर पुतिन
15-16 अक्टूबर 2016 भारत नरेंद्र मोदी
3-5 सितंबर 2017 चीन शी जिनपिंग
25-27 जुलाई 2018 दक्षिण अफ्रीका सिरिल रामफोसा
13-14 नवंबर 2019 ब्राज़ील जेयर बोल्सोनारो
17 नवंबर 2020 रूस व्लादिमीर पुतिन
9 सितंबर 2021 भारत नरेंद्र मोदी
23-24 जून2022 चीन शी जिनपिंग

Must Read: BRICS: Why was BRICS formed, its full form, objectives & developments

tentaran google news

Must Read: UNSC – United Nations Security Council; Its history, role, and members

What is BRICS Summit in Hindi,  हमारे फेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर हमें फ़ॉलो करें और हमारे वीडियो के बेस्ट कलेक्शन को देखने के लिए, YouTube पर हमें फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

The content and images used on this site are copyright protected and copyrights vests with their respective owners. We make every effort to link back to original content whenever possible. If you own rights to any of the images, and do not wish them to appear here, please contact us and they will be promptly removed. Usage of content and images on this website is intended to promote our works and no endorsement of the artist shall be implied. Read more detailed ​​disclaimer
Copyright © 2022 Tentaran.com. All rights reserved.
× How can I help you?